- Advertisement -

जब बाराबंकी पुलिस ने अवैध हथियारों के खिलाफ अभियान चलाया तो जखीरा आया सामने , 51हथियार-बाराबंकी

0 225

जब बाराबंकी पुलिस ने अवैध हथियारों के खिलाफ अभियान चलाया तो जखीरा आया सामने , 51हथियार , 70 कारतूस के साथ 37 अभियुक्त गिरफ्तार


लोकसभा चुनाव को देखते हुए बाराबंकी पुलिस ने अभियान चलाया तो चौंकाने वाले परिणाम सामने आए । विभिन्न थानों की पुलिस ने अलग – अलग जगहों से बड़ी मात्रा में हथियार बरामद कर बड़ी सफलता हासिल की । पुलिस ने अपनी इस कामयाबी से अपराधियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया । बाराबंकी पुलिस ने 51 निर्मित और अर्धनिर्मित हथियारों के साथ एक हथियारों को निर्मित करने वाले कारखाने 70 कारतूस और इस काम में लगे 37 अभियुक्तों को भी पकड़ कर बड़ी सफलता हासिल की ।

- Advertisement -


बाराबंकी पुलिस ने पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर आने वाले लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत अवैध हथियारों के खिलाफ एक अभियान चलाया । जब पुलिस ने यह अभियान चलाया तो उसे अंदाजा नही था कि जनपद में इतनी बड़ी मात्रा में अवैध हथियारों का निर्माण हो रहा है मगर 24 घण्टे के।अन्दर इस अभियान के जो परिणाम सामने आए उससे पुलिस की आंखें भी चकाचौंध रह गयी । पुलिस ने जहाँ कुर्सी थाने में एक असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया तो विभिन्न थानों से 51 निर्मित और अर्धनिर्मित हथियारों को भी बरामद किया । इन हथियारों के साथ 70 कारतूस और 37 अभियुक्तो को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने का काम किया है ।

- Advertisement -

बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने बताया कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उन्होंने पुलिस को अवैध हथियारों के खिलाफ अभियान चलाने का निर्देश दिया था । इस अभियान में जनपद की 13 थानों की पुलिस ने जबरदस्त सफलता हासिल करते हुए 51 निर्मित और अर्धनिर्मित हथियारों के साथ 70 कारतूस और इस काम में लगे 37 अभियुक्तो को गिरफ्तार कर लिया है । इस अभियान को आगे भी जारी रखा जाएगा । पुलिस अधीक्षक ने बताया कि एक कारखाने को भी पकड़ा गया है जो हथियारों का निर्माण करता था । इस काम में लम्बे समय से लोग लगे हुए थे और कई बार जेल भी जा चुके है । न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद इन अपराधियों को रिमांड पर लेकर आगे की पूँछतांछ की जाएगी और इनसे और भी राज उगलवाये जाएंगे ।

बाईट – अजय कुमार साहनी ( पुलिस अधीक्षक बाराबंकी )

Leave A Reply

Your email address will not be published.