- Advertisement -

Barabanki- प्रियंका गांधी का रोडशो प्रशासन ने रोका, तो बोलीं प्रियंका- रूटमैप को लेकर कन्फ्यूजन था, वाराणसी से न लड़ना पार्टी का फैसला

0 208

Barabanki Story- प्रियंका गांधी का रोडशो प्रशासन ने रोका, तो बोलीं प्रियंका- रूटमैप को लेकर कन्फ्यूजन था, वाराणसी से न लड़ना पार्टी का फैसला

बाराबंकी में प्रियंका गाँधी वाड्रा ने अपनी जनसभा के बाद प्रसिद्ध सूफी सन्त हाजी वारिश अली शाह की दरगाह देवा शरीफ पर माथा टेका और काँग्रेस के जीत की दुआएं माँगी । देवा शरीफ पर माथा टेकने के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा ने काँग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया के समर्थन में मुख्यालय तक रॉड शो किया । प्रियंका गाँधी के रोड शो में अपार जनसमूह उमड़ आया । प्रियंका के साथ काँग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया और उनके पिता डॉक्टर पी.एल.पुनिया मौजूद थे । प्रियंका का रोडशो जब जनपद के मुख्य बाज़ार पहुँचा तो प्रशासन रोडशो को रोक दिया और रोडमैप की अनुमति न होने का हवाला दिया । काँग्रेस कार्यकर्ताओं के दबाव के आगे प्रशासन ने प्रियंका को रोडशो की अनुमति दे दी मगर प्रियंका पैदल ही रोडशो करने लगी । प्रशासन की मुश्किलें तब और बढ़ गयी जब प्रियंका की जनसभा स्थल की बिजली काटने का आरोप लगा कर हंगामा शुरू कर दिया ।

- Advertisement -

देवा शरीफ की दरगाह पर आज काँग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने चादर चढ़ाई और काँग्रेस की जीत की दुआ माँगी । इस दौरान प्रियंका गाँधी ने प्रसिद्ध सूफी संत हाजी वारिश अली शाह के जो रब है , वही राम को भी याद किया । दरगाह पर जियारत के बाद प्रियंका गाँधी ने काँग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया के समर्थन में देवा शरीफ से लेकर जिला मुख्यालय तक रोड शो किया । प्रियंका गाँधी के रोडशो को बाराबंकी की जनता का भरपूर प्यार मिला और उन्हें देखने जन।सैलाब उमड़ पड़ा । प्रियंका गांधी ने उपस्थित जनसमूह का हाथ हिला कर अभिवादन किया ।

- Advertisement -

रोडशो के दौरान जनपद मुख्यालय के धनोखर हनुमान मंदिर पर भी प्रियंका गांधी ने हनुमान जी के दर्शन किये । प्रियंका गाँधी के रोडशो से जनता इस कदर उत्साहित थी कि जैसे ही काफिला घंटाघर पहुँचा तो लोगों ने पुष्पवर्षा कर उनका उत्साह के साथ स्वागत किया । प्रियंका का काफिला आगे बढ़ ही रहा था कि बाराबंकी प्रशासन ने अनुमति न होने की दशा में रोडशो रोक दिया गया । रूटमैप न देने का प्रशासन दे रहा हवाला मगर कांग्रेसियों के नेताओ की मध्यस्थता के बाद प्रशासन ने रोडशो की इजाज़त दी और काफिला आगे बढ़ा । काफिला जैसे ही जनसभा स्थल फजरुल रहमान पार्क पहुँचा तो वहाँ बिजली न देख कर कार्यकर्ताओ ने हंगामा शुरू कर दिया । काँग्रेस कार्यकर्ताओं ने जानबूझ कर बिजली काटने का आरोप जिला प्रशासन पर मढ डाला। काँग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रियंका की जनसभा न होने पाए इसके लिए सरकार को खुश करने के लिए जानबूझ कर जिला प्रशासन ने बिजली कटवाई है ।

प्रियंका गाँधी के साथ काँग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया , काँग्रेस के राज्यसभा सांसद और राष्ट्रीय प्रवक्ता और कांग्रेस प्रत्याशी तनुज के पिता डॉक्टर पी.एल.पुनिया मौजूद रहे । प्रियंका गाँधी के इस आगमन ने जनपद में काँग्रेस का एक माहौल तैयार कर दिया है ।

रोडशो को रोके जाने पर प्रियंका गाँधी ने कहा कि कुछ रूट मैप का कन्फ्यूजन था , पहले यह कार्यक्रम एक दिन पहले होना था मगर बाद में कुछ कारणोंवश आज किया गया । इसकी अनुमति के लिए कुछ कन्फ्यूजन था , अनुमति की कॉपी नही मिल रही थी । इस लिए थोड़ी देर तक काफिला रुका । अब कन्फ्यूजन दूर हो।गया है ।वहीं वाराणसी से चुनाव न लड़ने पर प्रियंका गांधी ने कहा कि उन्हें जो आदेश पार्टी से मिला था, उसी पर मैं काम कर रही हूं।

बाईट – प्रियंका गाँधी वाड्रा ( काँग्रेस महासचिव )
रिपोर्टर सैफ मुख्तार

Leave A Reply

Your email address will not be published.