- Advertisement -

गोंडा-घूंघट की आड़ में छलक रहे जहरीले जाम,आबकारी विभाग व पुलिस मौन

0 354
घूंघट की आड़ में छलक रहे जहरीले जाम पुलिस वह आब कार्यों का संरक्षण पाकर कच्ची शराब माफियाओं का हो रहा हौसला बुलंद
शासन प्रशासन मौन
रिपोर्ट-रंजीत तिवारी

- Advertisement -

गोंडा जनपद के ज्यादातर गांव में घूंघट की आड़ से जहरीला जाम परोसा जा रहा है कानून से बचने के लिए शराब का धंधा करने वाले लोग महिलाओं का सहारा लेकर उनको आगे कर रहे हैं बता दें कि आए दिन ग्रामीण क्षेत्र में कच्ची शराब माफियाओं का कहर पूरी तरह से फल-फूल रहा है और एक तरफ कच्ची शराब पीने से मौतों का सिलसिला जारी है जिसका खामियाजा भुगत रहे यह ग्रामीण उक्त मामला कोतवाली इटियाथोक अंतर्गत बिनुहनी का है यहां के निवासी बाबू राम सोनकर व गंगाराम सोनकर अपने औरतों का सहारा लेकर कच्ची शराब की भठ्ठी बेधड़क चला रहे हैं यहां पर आए दिन सुबह से शाम तक शराबियों का जमावड़ा बना रहता है जिससे आने जाने वाली महिलाओं को शराबियों से डर लगा रहता है इसी तरह उक्त कोतवाली अंतर्गत सर कांड स्थित पंडित पुरवा में प्रधाने सोनकर वह बड़का देवी के यहां खुलेआम कच्ची शराब की भट्टी चलाया जा रहा है इस मामले की शिकायत इटियाथोक कोतवाल वह आबकारी निरीक्षक से की गई परंतु इस मामले को गंभीरता से ना लेते हुए नजरअंदाज कर दिया गया यह एक जांच का विषय है बता दें कि ऐसे में कई सवाल उठते हैं एक तरफ पुलिस कच्ची शराब बंद करवाने हेतु अभियान चला रही है दूसरी तरफ यही पुलिस कच्ची शराब माफियाओं को संरक्षण दे रही है यह एक जीता जागता उदाहरण है।

- Advertisement -

♦इस मामले पर क्या कहती हैंआबकारी निरीक्षक गीता सिंह 

इस मामले को लेते हुए जब आबकारी निरीक्षक गीता सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हम लोगों को काफी दौड़ भाग रहती है परंतु 2 दिन के अंदर इन कच्ची शराब माफियाओं के विरुद्ध कारवाही अवश्य की जाएगी

              (रिपोर्ट की अपनी राय)

Leave A Reply

Your email address will not be published.