- Advertisement -

सुलतानपुर-चौदह माह बाद बिसरा से खुला राज,करंट से नही बिजनेस पार्टनर ने खाने में दिया था जहर।

0 94

बिजनेस पार्टनर ने खाने में दिया था जहर, मौत के बाद लगाया था “करंट”

चौदह माह बाद बिसरा से खुला राज

- Advertisement -

(सुलतानपुर)मोतिगरपुर थाना क्षेत्र के भवानीपुर निवासी विपिन घुरिया की संदिग्ध मौत मामले का राज चौदह माह बाद विसरा रिपोर्ट ने खोल दिया है। विपिन की मौत बिजली करंट से नहीं बल्कि खाने में जहर देने से हुई थी। घटना को अंजाम मृतक के बिजनेस पार्टनर ने दिया था। विसरा रिपोर्ट आने के बाद सक्रिय हुई पुलिस ने विपिन के दोस्त को हिरासत में लिया और कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सबकुछ सच- सच उगल दिया।

- Advertisement -

मोतिगरपुर थाना क्षेत्र के भवानीपुर गांव निवासी उमेश कुमार और विपिन धुरिया में दोस्ती थी। दोनों ने थाना क्षेत्र के खनुहट कटरा बाजार के पास किराए के मकान में दोना पत्तल और चप्पल बनाने का छोटा सा कारखाना लगाया था। 22 अगस्त 2021 को विपिन की संदिग्ध परिस्थितियों में
मौत हो गई। बेटे की हत्या करने की आशंका को जताते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। पोस्टमार्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो को सका। जांच के लिए बिसरा सुरक्षित रखा गया था। पुलिस मामले की जांच में जुटी थी कि इसी बीच संचित विसरा की एफएसएल फोरेंसिक जांच रिपोर्ट में विपिन की मौत का कारण जहर पाया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपी उमेश को गिरफ्तार कर जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि दोनों दोस्तों ने घटना के दिन साथ में खाना खाया था विपिन के खाने में कीटनाशक मिला दिया था। खाने के बाद जब उसकी मौत हो गई तो घटना को छुपाने के लिए उसने विपिन को बिजली का शॉक भी दिया था। जिससे लगे कि बिजली का करंट लगने से उसकी मौत हुई है। बुधवार को आरोपी उमेश मलिकपुरबखरा मोड के पास से गिरफ्तार किया गया। इस बावत थानाध्यक्ष मोतिगरपुर ज्ञानचंद शुक्ला ने बताया कि हत्यारोपी उमेश गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। अन्य आरोपियों की संलिप्तता नहीं मिली।

सुल्तानपुर-भा ज पा किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट के मुख्य गेट पर फूंका राहुल गांधी का पुतला।

Leave A Reply

Your email address will not be published.