- Advertisement -

सुलतानपुर-मृतक शिक्षक मामले में संघ व परिवार अंतिम संस्कार नही करने पर अड़ा,अभी भी चल मान मनव्वल जारी।

0 114

सुल्तानपुर में एक खंड शिक्षाधिकारी पर आरोप लगा कि उनकी प्रताड़ना से ऊब कर आखिरकार एक शिक्षक ने मौत को गले लगा लिया। जिसके बाद से यह मामला गरम होता चला गया। इस उजागर होने के बाद शिक्षक संघ में खासी नाराजगी देखने को मिल रही है।शिक्षकसंघ द्वारा आरोपी (बीओ)खंड शिक्षाधिकारी के खिलाफ मृतक शिक्षक के घर पहुँच कर प्रदर्शन शुरू कर कड़ी कार्रवाई की मांग कर दी।

दरअसल बल्दीराय थानाक्षेत्र के केवटली गांव के रहने वाले सूर्य प्रकाश द्विवेदी कुड़वार ब्लाक के चित्ता जूनियर माध्यमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात थे।बताया जा रहा है कि बीते शनिवार को सूर्य प्रकाश विद्यालय में थे, इसी दौरान उन्हें फोन आया कि बेटे का हाथ फ्रैक्चर हो गया है, लिहाजा वे अवकाश प्रार्थना पत्र विद्यालय में रखकर बेटे का इलाज कराने घर चले गए।प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार थोड़ी देर बाद खंड शिक्षाधिकारी मनोजीत राव स्कूल में पहुंच गए और जब उन्होंने देखा कि प्रधानाध्यापक स्कूल में नहीं है तो उन्होंने फोन कर उन्हें जमकर खरी खोटी सुना दी।वहां पर रखा अवकाश प्रार्थनापत्र जेब में डाल कर शिक्षक सूर्य प्रकाश द्विवेदी के खिलाफ कार्रवाई कर डाली।लोगो का मानना है कि इस घटना के बाद उन्हें बहुत गहरा सदमा लगा जिसके बाद परिजन तत्काल उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले गए, जहां से उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया. बीती रात इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

- Advertisement -

भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को किया कटघरे में खड़ा,कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग में खेल का उजागर होना जरूरी।

सूर्य प्रकाश द्विवेदी की मौत मामले को पूर्व मंत्री व भाजपा विधायक विनोद सिंह ने भी नाराजगी जताई और कहा कि सालभर शिक्षकों के निलंबन और बहाली के नाम पर बेसिक शिक्षा विभाग में खेल का उजागर होना जरूरी है. शिक्षकों के वेतन रोकने और बहाल करने के नाम पर अफसरों ने जो धन उगाही की है वह सार्वजनिक होना चाहिए।

- Advertisement -

शिक्षक संघ मुकदमा लिखवाने पर अड़ा

प्रधानाध्यपक की मौत की खबर मिलते ही हंगामा मच गया. शिक्षक संघ ने कुड़वार स्थित खंड शिक्षा कार्यालय परिसर में जमकर हंगामा किया और आरोपी खंड शिक्षाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. शिक्षक संघ ने कहा कि वो पिछले पांच-छह महीने से शिक्षकों को प्रताड़ित कर रहे हैं. बीईओ अगर उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित नहीं किया होता तो उन्हें सदमा नहीं लगता।
सुल्तानपुर से बीजेपी सांसद मेनका गांधी ने भी डीएम से मामले की जांच का मांग की है. उन्होंने इस सिलसिले में डीएम से बात की और प्रकरण की जांच कराकर दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं

सुलतानपुर की निष्ठा शर्मा को उम्दा गायकी के लिए सा रे गा मा पा में चुना गया फर्स्ट रनरअप।

Leave A Reply

Your email address will not be published.