- Advertisement -

कई प्रदेशों से पैदल ही श्रद्धालुओं की लंबी कतार राम पथ गमन मार्ग पर जा रही हैं देखी।

0 45

सोमवार को अयोध्या में रामलला की प्राणप्रतिष्ठा की तैयारियां जोरशोर से शुरू है। कई प्रदेशों से पैदल ही श्रद्धालुओं की लंबी कतार राम पथ गमन मार्ग पर देखी जा रही हैं,

आइये उनसे क्या हुई बात सुनाते हैं। और इसके बाद प्राण प्रतिष्‍ठा का शुभ मुहूर्त सोमवार को क्यों 84 सेकेंड का ही है आप जानकारी देते है पहले आइये सुनते हैं मध्य प्रदेश से पैदल जा रहे श्रद्धालुओं ने क्या कहा आप भी सुने।

- Advertisement -

प्राण प्रतिष्‍ठा का शुभ मुहूर्त सोमवार
दोपहर में 12 बजकर बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक होगा। इस मुहूर्त में 84 सेकंड का वक्‍त सबसे खास माना जा रहा है। आइए जानते हैं इस मुहूर्त को क्‍यों माना जा रहा है सबसे खास।

- Advertisement -

रामलला मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा मुहूर्त
पंचांग और अन्‍य शुभ अशुभ योग को देखते हुए रामलला की मूर्ति को प्राण प्रतिष्ठा देने के लिए 22 जनवरी 2024, पौष माह के द्वादशी तिथि को अभिजीत मुहूर्त, इंद्र योग, मृगशिरा नक्षत्र, मेष लग्न एवं वृश्चिक नवांश को चुना गया है। यह शुभ मुहूर्त दिन के 12 बजकर 29 मिनट और 08 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट और 32 सेकंड तक अर्थात 84 सेकंड का होगा। इसी समय में प्रभु श्रीराम की मूर्ति को प्राण प्रतिष्ठा दी जाएगी।


प्राणप्रतिष्ठा का क्यों है 84 सेकेंड का शुभमुहूर्त, देखे कईप्रदेशों से पैदलश्रद्धालुओं की राम पथ गमन मार्ग पर देखी जा रही हैं लंबी कतार।

अयोध्‍या में राम मंदिर में प्राण प्रतिष्‍ठा उत्‍सव की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। 22 जनवरी को यह कार्यक्रम होगा। हालांकि मूर्ति की प्राण प्रतिष्‍ठा से जुड़े पूजा कार्यक्रम का आरंभ 16 जनवरी से हो चुका है, लेकिन मुख्‍य प्राण प्रतिष्‍ठा कार्यक्रम 22 जनवरी को मंदिर के गर्भग्रह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों किया जाएगा। राम मंदिर ट्रस्ट द्वारा बताया गया है कि सभी शास्त्रीय परंपराओं का पालन करते हुए, प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम अभिजीत मुहूर्त में किया जाएगा। जो कि दोपहर में 12 बजकर बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.