- Advertisement -

सुलतानपुर-सप्ताह भर में शत प्रतिशत यू डायस नहीं भरा गया तो विद्यालयों का मान्यता होगा प्रत्याहरण : बी.एस.ए।

0 30

बी.एस.ए ने डाटा फीडिंग नहीं करने वाले 26 हेडमास्टर का रोका वेतन

- Advertisement -

सप्ताह भर में शत प्रतिशत यू डायस नहीं भरा गया तो विद्यालयों का मान्यता होगा प्रत्याहरण : बी.एस.ए

- Advertisement -

सुलतानपुर। शासन की प्राथमिकता में शामिल स्कूल प्रोफाइल एंड फैसिलिटी माड्यूल की डाटा फीडिंग में लापरवाही बरतने वाले 26 प्रधानाध्यापक व प्रभारी प्रधानाध्यापक का वेतन रोक दिया गया है। उच्चाधिकारियों की समीक्षा में विभाग की किरकिरी होने के बाद बीएसए ने यह कार्रवाई की है। यूडाइस में अविलंब स्टूडेंट्स माड्यूल से संबंधित कार्य पूर्ण करते हुए रिपोर्ट मांगी गई है। बीएसए दीपिका चतुर्वेदी ने बताया कि स्कूल प्रोफाइल एंड फैसिलिटी माड्यूल, टीचर एंड स्टूडेंट्स माड्यूल की डाटा इंट्री/प्रोगेशन का कार्य 31 जनवरी तक शत प्रतिशत पूर्ण कर लिया जाना था। एक फरवरी को उच्चाधिकारियों की समीक्षा में 26 विद्यालयों का अद्यतन कार्य संतोषजनक नहीं रहा। जबकि, शासन के मुख्य बिंदुओं में यह कार्य शामिल किया गया है। ऐसे में इन विद्यालयों के हेडमास्टर का वेतन अग्रिम आदेश तक रोका गया है। कंपोजिट विद्यालय बिही निदुरा, जूनियर हाईस्कूल पिपरी, प्राथमिक विद्यालय बघौना, प्रा.वि. छतौना डड़वा, प्रा.वि. लोहरिया, प्रा.वि. पूरे मैन पांडेय, प्रा.वि. तुलसीराम तिवारी, जूनियर हाईस्कूल समीगंज, प्रावि कुड़िया, प्रा.वि. त्रिलोकचंद्रपुर, जूनियर हाईकूल भवानीपुर, जू.हा. करमौली, जू.हा. सेमरौना, प्रा.वि. खुढ़वा, प्रा.वि. गोसैसिंहपुर, प्रा.वि गोसैसिंहपुर द्विवेदी, कंपोजिट अमिलिया कला, जू.हा. देईं, प्रा.वि. मल्हौटी, प्रा.वि. मोहम्मदीपुर, प्रा.वि. मलिकपुर, प्रा.वि. सोनारा द्वितीय, प्रा.वि. भरखरे, कंपोजिट खैराबाद व प्रा.वि. हथियानाला इन सभी विद्यालयों की डाटा इंट्री अधूरी पाई गई है।
बीएसए दीपिका चतुर्वेदी ने बताया कि परिषदीय विद्यालयों के साथ मान्यता प्राप्त विद्यालय मनमानी कर रहे है। कई बार आदेश निर्देश के बाद भी बड़ी संख्या में विद्यालयों की ओर से डाटा इंट्री के कार्य में लापरवाही बरती जा रही है। सभी विद्यालयों को पत्र जारी कर दिया गया है। एक सप्ताह में यदि शत प्रतिशत यू डायस नहीं भरा गया तो विद्यालयों का मान्यता प्रत्याहरण कर दिया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.