- Advertisement -

सरकारी स्कूलों में बच्चों को रोली-टीका लगाकर स्वागत की हुई तैयारी, बच्चों को खिलाया जाएगा हलवा व खीर।

0 66

सभी स्कूलों में गुब्बारे, झण्डियाँ तथा रंगोली बनाकर एक उत्सव जैसा वातावरण सृजित कर आने पर बच्चों का किया जाय स्वागत,बीएसए ने दिया सभी प्रधानाध्यापकों को निर्देश।

28 जून को सभी विद्यालय में आने वाले बच्चों को रोली-टीका लगाकर किया जाय स्वागत साथ ही बच्चों के लिए रूचिकर हलवा, खीर जाय खिलाया।

- Advertisement -

- Advertisement -

सुल्तानपुर- महानिदेशक स्कूल शिक्षा उत्तर प्रदेश द्वारा ग्रीष्मावकाश के बाद विद्यालय पुनः खुलने पर छात्र-छात्राओं के नामांकन वृद्धि तथा नियमित उपस्थिति हेतु स्कूल चलो अभियान के संचालन के सम्बन्ध में पत्र जारी किया गया है, इस बात की जानकारी जनपद की जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी दीपिका चतुर्वेदी द्वारा दी गई,आगे जानकारी देते हुए उन्होंने बताया गया कि सभी प्रधानाध्यापक को भीषण गर्मी एवं लू को देखते हुए विद्यालयों का संचालन 28 जून से किये जाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं इस लिए पठन-पाठन आरम्भ होने के पूर्व हीं छात्र-छात्राओं को एक स्वच्छ एवं स्वस्थ वातावरण उपलब्ध कराये जाने हेतु विद्यालय स्तर पर विभिन्न तैयारियाँ कर ली जाएँ। श्रीमती चतुर्वेदी ने आगे बताया कि चाइल्ड फेण्डली वातावरण सृजित करने हेतु विद्यालयों की रंगाई पुताई, साफ-सफाई, गुब्बारे, झण्डियाँ तथा रंगोली बनाकर साज-सज्जा से विद्यालयों में एक उत्सव जैसा वातावरण सृजित किया जाय। विद्यालय आने पर बच्चों का स्वागत किए जाने से बच्चों में एक विशिष्टिता का भाव एवं विद्यालयों से लगाव उत्पन्न होगा। आगे जानकारी देते हुए बीएसए चतुर्वेदी बताया कि विद्यालय पुनः खुलने पर विद्यालयों को बच्चों के अनुकूल तैयार करने के लिए 25 जून से अध्यापकों को विद्यालय आना अनिवार्य होगा। 25 जून से 27 जून तक प्रत्येक विद्यालय के परिसर की समुचित साफ-सफाई कराते हुए विद्यालय को सुन्दर एवं आकर्षक बनाया जायेगा। साथ ही कक्षा कक्षों की फर्श, दीवारें, खिड़की, दरवाजे, ब्लैक बोर्ड आदि की सफाई करायी जायेगी। आगे जानकारी देते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि 28 जून को सभी विद्यालय को फूल, पत्तों, रंगोली, झंडियों, गुब्बारों आदि से सजाया जाएगा और विद्यालय आने वाले बच्चों को रोली-टीका लगाकर स्वागत किया जाएगा। उस दिन मध्याहन भोजन में बच्चों के लिए रूचिकर हलवा, खीर आदि बनाया जायेगा। इस बात की जानकारी शिक्षा विभाग द्वारा प्रेसनोट के माध्यम से भी दी गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.