- Advertisement -

सुल्तानपुर-एडिशनल कमिश्नर जीएसटी से रूबरू हुआ अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल।

0 79

एडिशनल कमिश्नर जीएसटी से रूबरू हुआ अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल।
17-18 वैट व जीएसटी से संबधित नोटिस पर दर्ज कराया विरोध।

- Advertisement -

- Advertisement -

सुलतानपुर। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश मंत्री हिमांशु मालवीय के नेतृत्व व जिला अध्यक्ष विजय प्रधान की अगुआई में व्यापारियों का प्रतिनिधि मंडल जनपद में निरिक्षण पर आऐ,एडिशनल कमिश्नर आर एस विद्यार्थी व जे सी दुर्गा शंकर जी का स्वागत करते हुए उनसे जीएसटी की कमियों को दूर करने का आग्रह किया।
जिला प्रभारी प्रवीन्द्र भालोटिया ने कहा कि हम सभी यह उम्मीद करेंगे कि जीएसटी की जितनी भी कमियां हैं उन सभी को दूर करने में वाणिज्यकर विभाग व्यापारियों को राहत प्रदान करेंगे।
वरिष्ठ जिला महामंत्री ने कहा कि वस्तु एवं सेवा कर की 53वीं बैठक में लिए गए निर्णय का शासनादेश तुरंत अमल में लाया जाए जो भी नोटिस जारी हुए हैं उन सबको रद्द करते हुए व्यापारियों का जमा ब्याज उनको वापस लौटाया जाए कोई भी अधिकारी यदि अनावश्यक नोटिस जारी कर रहा है तो उसके खिलाफ दंडावात्मक कार्रवाई की जाए।
इसके साथ ही 40 लाख से नीचे का व्यापारी यदि पंजीकरण ले रहा है तो उसको परेशान ना किया जाए जीएसटी की दरों में एकरूपता लाते हुए तंबाकू व सीमेंट पर कर की दरें घटाई जाए।
व्यापारियों ने कहा कि अनावश्यक व्यापारियों की गाड़ियां जगह-जगह न रोकी जाए, भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों के खिलाफ भी कार्यवाही हो, उन्होंने कहा कि व्यापारी जिसने टैक्स इनवॉइस से माल खरीदा है और टैक्स विभाग में जमा कर दिया है यदि दूसरी पार्टी जिससे माल खरीदा गया है टैक्स जमा नहीं कर रही तो उसका दोषी खरीददार व्यापारी को ना माना जाए, इसको ठीक किया जाए।
जीएसटी 1 तथा जीएसटी 3b को संशोधित किए जाने का प्रावधान रखा जाए, समाधान योजना में टर्नओवर का सिर्फ आधा प्रतिशत कर लिया जाए ट्रिब्यूनल की अति शीघ्र स्थापना की जाए।
सीमेंट पर कर की दर घटाई जाए और तंबाकू सहित बहुत सी वस्तुओं पर अलग-अलग जीएसटी की दरें हैं उनको एक रूप किया जाए।
एडिशनल कमिश्नर ने जनपद के व्यापारियों के साथ एक बड़ी बैठक करने को कहा, उन्होंने कहा की अति शीघ्र इन सभी बिंदुओं को निस्तारित किया जाएगा और जीएसटी परिषद की बैठक की कार्यवाही से भी व्यापारियों को अवगत कराया जाएगा, किसी व्यापारी का शोषण नहीं होगा और विभागीय कोई भी अधिकारी गड़बड़ करेगा तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
उन्होने कहा कि व्यापारी और विभाग दोनों का उद्देश्य एक है कि हमारे देश और प्रदेश का विकास होना चाहिए और व्यापारी द्वारा दिए जाने वाले कर से ही प्रदेश और देश का विकास होता है इसलिए विभाग और व्यापारी मिलकर इस विकास की गति को तेज करेंगे।
बैठक के उपरांत अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रतनिधिमंडल द्वारा लाऐ गऐ पौधे को पर्यावरण के दृष्टीगत जीएसटी कार्यालय परिसर में एडिशनल कमिश्नर के हाथों से लगवाया गया।
इस मौके पर क्षेत्रिय प्रभारी अमर बहादुर सिंह,जिला महामंत्री मनीष साहू,जिला उपाध्यक्ष विनय सिंह,राज सिंह,अवधेश पांडेय,जिला मंत्री चन्द्रदेव मिश्रा,अरविंद पांडेय,आदि पदाधिकारीगण मौजूद रहे।

सुल्तानपुर- जनपद में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से एक महिला तो बच्चों की हुई मौत, मचा कोहराम।

Leave A Reply

Your email address will not be published.