- Advertisement -

अभद्रता और घटतौली के चलते दयालपुर सरकारी गल्ले की राशनदुकान निरस्त

0 390

ब्यूरो रिपोर्ट 

- Advertisement -

रिपोर्टर -अरविन्द कुमार 

- Advertisement -

राजधानी के लखनऊ विकास खंड मोहनलालगंज दयाल पुर गांव की सरकारी गल्ले की दुकान में कार्डधारको को मानकों के हिसाब से राशन न देना, और कार्डधारक के साथ अभद्रता के साथ पेश आने जैसी वारदात को लेकर प्रधान पति की शिकायत पर जिलाधिकारी ने दयालपुर राशन की दुकान को निरस्त कर दिया। और नये कोटेदार का चयन करने के निर्देश दिए।
ग्रामसभा दयालपुर के प्रधान पति सुरेन्द्र कनौजिया ने बताया कि मेरे ग्रामसभा का कोटेदार गोपीनाथ द्वारा अन्त्योदय व पात्र ग्रहस्थी के लोगो को मानक के अनुसार वितरण नहीं कर रहा था, और आये दिन कार्डधारक से अभद्रता से पेश आता था, जिसके चलते मैंने विभाग में शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत के बाद पुर्ति निरीछक व मोहनलालगंज के उपजिलाधिकारी के जांचने के बाद जिलाधिकारी के अनुमोदन आदेश द्वारा अनुबन्ध पत्र पर दयालपुर सरकारी दुकान पर जांचा, जिसमें कोटेदार पर लगे आरोप सही पाए जाने पर , पड़ोसी गांव राती में दो महीने पहले दयालपुर की राशनदुकान को निलम्बित कर, कोटेदार ग्रेनसिहं के यहां राती गांव में अटैच किया गया था। जिसके बाद दयालपुर गांव के कोटेदार से पन्द्रह दिन में स्पष्टीकरण मांगा गया था लेकिन दयालपुर के कोटेदार ने अपने पास से कोई भी लेखा-जोखा नहीं उपलब्ध करा सके। जिसके चलते सोमवार को जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देशन पर दयालपुर सरकारी गल्ले की दुकान को निरस्त कर दिया। वहीं बैठककर नये कोटेदार को चयनित किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.