- Advertisement -

सुलतानपुर-किसान नेताओं के साथ लामबंद हुए किसान, अधूरे मांगों को लेकर घेरा विकास भवन।

*जिले में शौचालय निर्माण अधूरा ,फर्जी घोषित किया गया ओडीएड*

0 135

*एनएच 56 में किये गए घोटालों के जांच की मांग।*

- Advertisement -

- Advertisement -

सुल्तानपुर।। जनपद के विभिन्न किसान संगठनों ने आज नगर स्थित तिकोनिया पार्क में योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर भारी संख्या में एकत्र होकर प्रशासन के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। इस अवसर पर किसानों ने कृषि उपनिदेशक द्वारा बार बार किसानों की योजनाओं में बराबर धांधली कर किये गए घोटाले की जांच , एनएच 56 विभाग के अधिकारियों के द्वारा किये गए बड़े घोटाले को मुद्दा बनाते हुए जमकर नारेबाजी की। किसानों का आरोप है कि वर्तमान सरकार में अधिकारी भ्र्ष्टाचार की सीमा पार कर चुके हैं, किसान हित में संचालित किसी भी योजना का लाभ लेने के लिए बिना चढ़ावा दिए काम नहीं हो पा रहा, डीडी कृषि द्वारा किसानों के साथ बराबर अभद्र व्यवहार के साथ योजनाओं में बड़ा घोटाला किया गया है। किसान नेताओं का आरोप किसान दिवसों में बार बार एक ही शिकायत को रखा जाता है, जिस पर फर्जी रिपोर्ट और बिना मतलब की आख्या देकर निपटा दिया जाता है और शिकायत वैसे ही बनी रहती है। किसानों का कहना है कि केंद्र व प्रदेश सरकार गांव व शहर को स्वच्छ भारत मिशन के तहत हर घर शौचालय में भारी अनियमितता बरती गई है और बिना शौचालय निर्माण के जिले को फर्जी ओडीएफ घोषित कर वाहवाही लूटी गई है, जिसकी जांच कराई जाए तो बड़ा भ्रष्टाचार उजागर होगा।
लोक सभा चुनाव सर पर है फिर भी अधिकारी अपने रवैये में कोई परिवर्तन नही कर किसानों के साथ अहित करने में लगे हैं। किसानों ने तिकोनिया पार्क से निकलकर अपनी मांगों को लेकर विकास भवन को घेर लिया, विकास भवन घेरे जाने से अधिकारियों व कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। विकास भवन में पहुँचकर सीडीओ की गाड़ी को घेर लिया, इसी बीच डीडी कृषि शैलेन्द्र शाही नेताओं से वार्ता करने पहुंचे , लेकिन बराबर किसानों की अवहेलना करने के लिए गुस्सा झेलना पड़ा, बात देख लेने तक पहुँच गयी, फिलहाल काफी मशक्कत के बाद अधिकारियों व पुलिस बल द्वारा किसानों को समझा भुझाया नहीं जा सका, आक्रोशित किसान अभी शांत नहीं हुए और रेलवे ट्रेक की तरफ कूंच किया है। अब प्रशासन के लिए मुश्किलें और बढ़ सकती है। सड़क पर भारी संख्या में किसान सरकार व अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.