- Advertisement -

सुलतानपुर-मतदेय स्थलों पर मिली कमियों को एक सप्ताह में दूर करें सम्बन्धित अधिकारी- जिला निर्वाचन अधिकारी

0 128

मतदेय स्थलों पर मिली कमियों को एक सप्ताह में दूर करें सम्बन्धित अधिकारी- जिला निर्वाचन अधिकारी।

- Advertisement -

सुलतानपुर 31 मार्च, जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को शांतिपूर्ण, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु सेक्टर मजिस्ट्रेटों के निरीक्षण के दौरान विभिन्न मतदेय स्थलों में पायी गयी कमियों को सम्बन्धित विभाग के अधिकारी एक सप्ताह में ठीक कराकर रिपोर्ट उन्हें दें।
जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी श्री गिरि ने बताया कि आयोग के निर्देशानुसार 37-अमेठी लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के अन्तर्गत 184-जगदीशपुर (आं0) विधान सभा क्षेत्र के कुल 72 मतदेय स्थल तथा 38- सुलतानपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के अन्तर्गत पांच विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र यथा 187- इसौली, 188-सुलतानपुर, 189 सदर, 190-लम्भुआ एवं 191 कादीपुर (अ0जा0) विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के कुल 2118 मतदेय स्थलों का सम्बन्धित सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा 27, 28 व 29 मार्च को निरीक्षण के लिये भेजा गया था, सम्बन्धित सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा अपने-अपने क्षेत्र के मतदेय स्थलों/बूथों का निरीक्षण किया गया है, जिसमें पायी गयी कमियों जैसे शौंचालय, पेयजल हेतु हैण्ड पम्प, टूटे हुए खिड़की-दरवाजे, भवन, विद्युतीकरण, वायरिंग तथा आवागमन हेतु रास्ते आदि हैं।
उन्होंने बताया कि सेक्टर मजिस्ट्रेटों द्वारा क्षेत्रों के मतदेय स्थलों/बूथों पर पायी गयी कमियों को सम्बन्धित विगाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि जो भी कमियां हों उसे एक सप्ताह में ठीक कराये जायें तथा रास्तों को भी ठीक कराकर अपनी रिपोर्ट उन्हें उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा भी स्वयं मतदेय स्थलों का निरीक्षण कर सत्यापन किया जायेगा तथा संवेदनशील/अति संवेदनशील बूथों का निरीक्षण करके आम जनमानस से चुनाव से सम्बन्धित विभिन्न जानकारियां ली जायेंगी।
डीएम ने बताया कि मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत युवाओं, महिलाओं व दिव्यांगजन को मतदान के लिये भी पे्ररित किये जाने हेतु 04 अप्रैल को प्रातः 10 बजे से जिले के सभी मतदेय स्थलों पर चुनाव पाठशाला का आयोजन कराये जाने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी को दिये गये हैं। इसका नोडल अधिकारी सम्बन्धित उप जिलाधिकारी/निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी होंगे। चुनाव पाठशाला में ईवीएम व वीवी पैट संचालन के साथ-साथ मतदान के लिये सम्बन्धित क्षेत्र के लेखपाल/बीएलओ को लगाया गया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.