- Advertisement -

उड़नदस्ता टीमों द्वारा चेकिंग के दौरान 2 लाख 11 हजार रूपये पकड़ी नगदी-सुलतानपुर

0 121

उड़नदस्ता टीमों द्वारा चेकिंग के दौरान 2 लाख 11 हजार रूपये पकड़ी नगदी।

- Advertisement -

सुलतानपुर 08 अप्रैल, प्रभारी अधिकारी व्यव अनुवीक्षण/वरिष्ठ कोषाधिकारी वरूण खरे ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जनपद में लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को शांतिपूर्ण, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं निर्बाध रूप से कराये जाने के निर्देश के क्रम में जिले की 17 उड़नदस्ता टीमों द्वारा वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है। जनपद में आदर्श आचार संहिता लागू होने के पश्चात 03 उड़नदस्ता टीमों द्वारा चेकिंग के दौरान कुल धनराशि 2 लाख 11 हजार रूपये अवैध रूप से ले जाते समय पकड़ कर सम्बन्धित टीम प्रभारी अधिकारी द्वारा कोषागार में जमा कराया गया। चेकिंग के दौरान साक्ष्य/एविडेन्स सम्बन्धित व्यक्तियों द्वारा प्रभारी अधिकारी को न दिखाये जाने पर धनराशि जब्त कर ली गयी।
वरिष्ठ कोषाधिकारी ने बताया कि 187- इसौली विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के उड़नदस्ता टीम प्रभारी/खण्ड शिक्षा अधिकारी, राम कुमार ने रविवार देर सायं काल 06ः40 बजे उ0प्र0 प्रदेश ग्रामीण बैंक शाखा वल्लीपुर थाना बल्दीराय के सामने चेकिंग के दौरान मोईन खां पुत्र अमीन खां निवासी- सरखण्डी डीह थाना धम्मौर सुलतानपुर की बैगनार कार से यू0पी0 32 एच0वाई0/312 से रूपये 65 हजार अवैध नगदी धनराशि पकड़ी। इसी प्रकार 187-इसौली विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के उड़नदस्ता टीम प्रभारी/पशुधन प्रसार अधिकारी बल्दीराय सुशील कुमार ने रविवार की रात्रि 12ः30 बजे महेश्वरगंज त्रिलोकपुर, थाना धम्मौर के पास चेकिंग के दौरान विनय सिंह पुत्र लक्ष्मी शंकर सिंह निवासी- म0नं0 2286, विवेक नगर, सुलतानपुर की कार संख्या यू0पी0 44 ए0सी0/3939 से रूपये 56 हजार अवैध नगदी पकड़ी गयी।
उन्होंने बताया कि 191-कादीपुर(अ0जा0) विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के उड़नदस्ता टीम प्रभारी पंकज कुमार सिंह ने रविवार की रात्रि 12ः32 बजे कादीपुर थाना के अन्तर्गत सूरापुर बाजार में चेकिंग के दौरान शहनवाज अहमद पुत्र शकील अहमद निवासी- तरायमीर जनपद आजमगढ़ की चार पहिया वाहन से रूपये 90 हजार अवैध नगदी पकड़ी। उक्त तीनों उड़नदस्ता प्रभारी अधिकारी द्वारा अवैध पायी गयी धनराशि जब्त कर कोषागार के डबल लाक में जमा करा दिया गया।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.