- Advertisement -

आगरा-एक महिला का हैरतअंगेज कारनामा,जेल में बंद पति को छुड़ाने के लिए बच्चा किया अगवा

0 296

फिर बेटा कहां से हो गया। गाजियाबाद के सीओ सेकंड आतिश कुमार सिंह ने बताया कि उमंग के फोटो से मिलान किया तो शक यकीन में बदल गया। बच्चा बरामद कर महिला को गिरफ्तार कर लिया गया

रिपोर्ट-।शिवम त्रिवेदी (आगरा)

- Advertisement -

- Advertisement -

अनीता ने पुलिस को बताया कि, बुलंदशहर के दौलतपुर थाना डिबाई के दौलतपुर गांव निवासी हेमलता ने उसे उमंग को 50 हजार रूपए में बेचा था। हेमलता ने बताया कि, अलीगढ़ जेल में बंद पति के मुकदमे की पैरवी के लिए रूपए की जरूरत थी, इसलिए बच्चा अगवा कर अनीता को 50 हजार में बेच दिया।

अनीता व हेमलता एक गांव की हैं। अनीता शादी के बाद गाजियाबाद में रहने लगी। इसके पास एक बेटी है। वह बेटा चाहती थी। बुलंदशहर आकर उसने ये बात हेमलता को बताई। इसने कहा कि बिना रूपए खर्च किए छोटा बच्चा नहीं मिल पाएगा। अनीता 50 हजार रूपए देने को तैयार हो गई।

17 मई को हेमलता अलीगढ़ जेल के बाहर से उमंग को अगवा कर सीधे गाजियाबाद पहुंची थी और 40 हजार रूपए लेकर बच्चा अनीता को सौंप दिया। 10 हजार रूपए बाद में देना तय हुआ, जिसे लेने मंगलवार को वह गाजियाबाद गई थी, तभी पुलिस ने उसे धर दबोचा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.