- Advertisement -

Barabanki-काम नहीं आएगी बीजेपी की जुमलेबाजी और चौकीदारी-मायावती,अखिलेश बोले- गठबंधन के तूफान ने किया सभी का सफाया

0 162

Barabanki Story- गठबंधन की रैली में बोली मायावती- काम नहीं आएगी बीजेपी की जुमलेबाजी और चौकीदारी, अखिलेश बोले- गठबंधन के तूफान ने किया सभी का सफाया

लोकसभा चुनाव के पांचवे चरण के लिए बाराबंकी, फैजाबाद और बहराइच के गठबंधन प्रत्याशियों के पक्ष में आज बाराबंकी के रामसनेही घाट में सपा-बसपा-रालोद की संयुक्त रैली आयोजित हुई। रैली को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने संबोधित किया। रैली के दौरान मंच पर सतीश चंद्र मिश्रा और मायावती के भतीजे आनंद प्रकाश भी मौजूद रहे।

- Advertisement -

अपने संबोधन में बसपा प्रमुख मायावती ने रैली में मौजूद लोगों से कहा कि इस भीषण गर्मी में आपका उत्साह देखकर लग रहा है कि गठबंधन चुनाव जीतने वाला है और गठबंधन के अच्छे दिन आने वाले हैं। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि केंद्र और राज्यों में आजादी के बाद से कांग्रेस पार्टी की सत्ता रही है। लेकिन लगातार सत्ता में रहते हुए कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण उन्हें सभी राज्यों की सत्ता से बाहर होना पड़ा। कांग्रेस पार्टी ने देश के विकास में अवरोध उत्पन्न किया। दलित पिछड़े और आदिवासियों को जो अधिकार मिलने चाहिए थे, वह कांग्रेस पार्टी के शासनकाल में नहीं मिले।

- Advertisement -

मायावती ने भाजपा पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा वालों की जुमलेबाजी अब काम नहीं आने वाली है। इनकी चौकीदारी और नई नाटकबाजी भी इनको नहीं बचा पाएगी। गरीबों के लिए किए गए वादों में एक चौथाई भी काम नरेंद्र मोदी और भाजपा ने नहीं किया। भाजपा की सरकार केवल पूजी पतियों के समर्थन में हैं। भाजपा की सरकार में देश की सीमाएं पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। मायावती ने कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार की तरह ही अब भाजपा की सरकार भी सीबीआई और ईडी का दुरुपयोग कर रही है। मायावती ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा के लोगों को अब सत्ता पर काबिज नहीं होने देना है। भाजपा के लोग साम-दाम-दंड-भेद सभी का उपयोग करने की कोशिश करेंगे लेकिन फिर भी आपको प्रभावित होने की जरूरत नहीं है।

वहीं समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने रैली में कहा कि इस बार गठबंधन एक इतिहास रचेगा। बड़ी पार्टी के बड़े नेता यहां आकर बड़ी-बड़ी बातें कर चुके हैं। लेकिन उनके भाषण में कोई दम और कोई जोश नहीं है। जो नारे लगाते थे अब उनमें भी दम नहीं रहा। अखिलेश ने कहा कि जब से चार चरणों का चुनाव खत्म हुआ है, तापमान बढ़ता जा रहा है। गठबंधन के पक्ष में वोटों की बारिश हो रही है। गठबंधन के इस तूफान ने सबका सफाया कर दिया है। हम किसान और गरीब हैं, खून पसीना बहाकर मेहनत करके आगे बढ़ना जानते हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि गरीबों और किसानों के विकास को कांग्रेस पार्टी ने रोका है। अभी प्रधानमंत्री जी बाराबंकी आए थे, किसी किसान से मिले क्या। हमारे किसान की आय दोगुनी नहीं हुई। इस सरकार में बड़े पैमाने पर किसान और मजदूर आत्महत्या कर रहा है। नोटबंदी के कारण जिसे नौकरी से निकाल दिया गया, वह आत्महत्या कर रहा है। जो चायवाला बनकर जनता को धोखा देने आए थे, 5 साल में उनका सब हिसाब-किताब जनता को समझ में आ गया। हमारे समय में 100 नंबर 15 मिनट में पहुंच जाती थी और अब बाबा की सरकार में 100 नंबर फेल हो गई। हमने जो लैपटॉप बाटे थे वह आज भी गांव में चल रहे होंगे। लेकिन हमारे बाबा की सरकार में लैपटॉप नहीं दिए गए क्योंकि बाबा लैपटॉप चलाना ही नहीं जानते हैं। यह सरकार जानवरों को भी दुख दे रही है। बीजेपी और काँग्रेस के कोई फर्क नही। किसी ने नहीं सोचा था कि यह गठबंधन होगा। देश को नया प्रधानमंत्री मिलने जा रहा है।

बाइट- मायावती, बसपा प्रमुख
बाइट- अखिलेश यादव, राष्ट्रीय अध्यक्ष, सपा।

रिपोर्टर सैफ मुख्तार

Leave A Reply

Your email address will not be published.