- Advertisement -

सुलतानपुर-कटका क्लब सामाजिक संस्था द्वारा मृत वानर (बंदर) का हिंदू रीति रिवाजों के साथ किया गया अंतिम संस्कार

0 138

मानव सेवा अनमोल है, इन्हीं शब्दों को कुछ लोगों ने चरितार्थ किया है. कटका क्लब सामाजिक संस्था के लोगों द्वारा एक मृत वानर (बंदर) का हिंदू रीति रिवाजों के साथ अंतिम संस्कार किया गया. दरअसल, सनातन धर्म में बंदर को बजरंगबली का रूप माना गया है और इसी के चलते कटका क्लब सामाजिक संस्था के सदस्यों ने अपनी आस्था को प्रदर्शित करते हुए विधि विधान से बंदर का अंतिम संस्कार किया.
इस मौके पर उपस्थित संस्था के अध्यक्ष सौरभ मिश्र विनम्र ने बताया कि यह मामला कुरेभार थाना क्षेत्र के बाबूगंज नहर के पास श्री राम ढाबा का है जहां रविवार को एक अज्ञात वाहन ने बंदर को अपनी चपेट में ले लिया था जिसमें बंदर की मौके पर ही मौत हो गई थी. सूचना पर संस्था के साथियों के साथ मौके पर पहुंच कर बंदर के शव को उठाकर एक साइड में रख दिया. क्षेत्र लोगों के सहयोग से बंदर के अंतिम संस्कार का बीड़ा उठाया गया ।
इस मौके पर उपस्थित एडवोकेट वेदांक त्रिपाठी ने बताया कि कि मृत बंदर का बकायदा हिंदू धर्म के रीति रिवाज के तहत मिलकर अंतिम संस्कार किया गया।दरअसल, सनातन धर्म में बंदर को बजरंगबली का रूप माना गया है और इसी के चलते रहवासियों ने अपनी आस्था को प्रदर्शित करते हुए विधि विधान से बंदर का अंतिम संस्कार किया गया।
अंतिम दर्शन में शामिल विपिन प्रजापति, बृजेश मिश्र, संदीप शर्मा, बृजेंद्र मिश्र, शिवम उपाध्याय, दर्जनों लोग उपस्थित रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.